सिक्योरिटी गार्ड ने मालकिन को जिम में चोदा

 75 

सिक्योरिटी गार्ड ने सेक्सी मालकिन को जिम में चोदा

दोस्तों, मेरा नाम अशोक बाजपेयी है और मैं उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ शहर का रहने वाला लड़का हूँ। मेरी उम्र यही कोई 29 साल है। मैं आपको अपने कालेज के बाद की एक कहानी बताने जा रहा हूँ जो मेरे साथ मुंबई में घटी। यह कहानी मेरे संघर्ष के दौर की है जब मुझे काम की तलाश थी और उसी समय मेरे सामना एक ऐसी औरत से होता है जो किसी जवान लड़के से चुदने को प्यासी थी। उसका आदमी बिजनेसमैन था और उसको समय नहीं दे पाता था।

मैने काॅलेज खत्म करने के बाद नौकरी के लिए मुंबई जाना उचित समझा। घर के हालात ठीक नहीं थे इसलिए कमाना बहुत जरूरी हो गया था। मैं मुंबई पहुँचकर तुरंत काम ढूढने निकल पड़ा लेकिन कोई अच्छा काम नहीं मिल पा रहा था। एक दिन मेरे दोस्त ने सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी के लिए जगह बताई तो मैंनें झट से हाँ कह दिया और उस कंपनी में सिक्योरिटी गार्ड के लिए आवेदन करने पहुँच गया। 3 से 4 दिन के प्राॅसेस के बाद मेंरी नौकरी लग गयी क्योंकि मेरी कद काठी अच्छी थी और मैं हट्टा कट्टा जवान था तो मेरी नौकरी एक बड़े बिजनेसमैन के घर की सुरक्षा में लगी। मैं बहुत खुश था, मुझे 12000 रूपये प्रति महीने मिलने वाले थे जो अभी भी बहुत कम थे। पर कुछ नहीं से कुछ तो हो, यही सोचकर मैं वहाँ लग गया।

https://nightqueenstories.com/

मैं पहले दिन वहाँ गया, तो वहाँ पर पहले से एक बुजुर्ग तैनात थे और उन्होने बताया कि एक लड़का अभी नौकरी छोड़कर गया है जिसकी वजह से तुम्हे यहाँ नौकरी मिली है। मेरी ड्यूटी गेट पर थी, पहले ही दिन बंग्ले में आते जाते लोगों को देखकर मुझे पता चल गया कि यहाँ पर एक पति- पत्नी और उनकी एक लड़की रहती थी। पहले दिन तो किसी से मेरी मुलाकात नहीं हुई परंतु रविवार के दिन उस परिवार ने हम दोनो सिक्योरिटी गार्ड को बुलाया और मेरा परिचय लिया। उन्होने हमें नाश्ते के लिए बुलाया, बिजनेसमैन काफी बिजी रहता था और उसकी बीवी बहुत ही मार्डन थी। देखने में तो वह उसकी बेटी के बराबर की ही लगती थी। मुझे उसका फीगर बिल्कुल मलाइका अरोड़ा के जैसा लगता था बिल्कुल फिट और स्लिम।

word image 5679 1

उसका पति सुबह जल्दी ऑफिस चला जाता था जिसके बाद उसकी बेटी कहीं जाती थी और उसकी बीवी भी दोपहर के बाद पार्टी वगैरह के लिए निकल जाती थी। देखने में वह बहुत सेक्सी और अमीर लगती थी। उसकी नयी नयी ड्रेस उसको और सेक्सी लुक देते थे। एक दिन बाहर जाते समय उसने गेट पर आकर मुझसे पूछा कि तुम कहाँ के रहने वाले हो और यहाँ कैसे पहुचें तो मैने सारी बात बतायी। इसके बाद वह बोली कि तुम जैसे लोग हमारे लिए बहुत काम के हो, क्योंकि अच्छे से सुरक्षा कर सकते हो। उसने बुड़्ढे सिक्योरिटी गार्ड की तरफ देखते हुए कहा। मेरा शरीर और बाडी देखकर वह काफी खुश नजर आ रही थी। मैं इतनी ज्यादा खूबसूरती इतने पास से देखकर काफी उत्तेजित था। वो मेरे सपने में आने लगी थी और मैं उसको सोचकर सड़का भी मारने लगा था। मेरें अंदर कई गंदे गंदे ख्याल उसको लेकर आते रहते थे।

फिर एक दिन वह दोपहर को अपने घऱ के जिम में वर्कआउट कर रही थी तभी हमारे केबिन में उसका फोन आया। उसने कहा लगता है कि यहाँ कोई घुस आया है जल्दी से आओं और देखो। मेरे साथ पहली बार ऐसा केस हुआ कि कोई घर में बिना इजाजत घुस गया हो, मैं तुरंत दौड़ते हुए जिम पहुँचा तो देखा मैम छोटी सी चड्डी और बनियान में डम्बल उठा रही थी। वो आगे की ओर झुकी थी और उनकी आधी चूचियाँ बाहर झांक रही थी। गोरे गोरे मलाई दार चूचे देखकर तो मेरा लण्ड तन्ना गया। मैने जेब में हाथ डालकर अपने लण्ड को मसलकर बैठाया और उनके पास जाकर खड़ा हो गया। उसकी बनियान और चड्डी के बीच काफी अंतर था, पूरी कमर खुली दिख रही थी जिसपर पसीना चू रहा था। मेरा मन था कि मैं इस पसीने को चाटकर उसकी चूत में उतर जाऊं। पर कंट्रोल करते हुए कहा, कि आपने किसको देखा और कहा देखा है। वह जोर जोर से हसने लगी और बोली तेरे होते हुए कोई अंदर आ सकता है भला। वो तो तुझे बुलाने का तरीका है। ये सुनकर मेरे तो कान खड़े हो गये और दिल भी धक धक होने लगा। वो स्टूल पर बैठे जोर से हँस रही थी, और इधर मेरा लण्ड खड़े खड़े तन्ना रहा था, मेरे दिमाग में पता नही क्या आया, मैने अपने चेन खोली, लौड़ा बाहर निकाला और उसके मुँह में ठूस दिया और उसकी सारी हँसी बंद कर दी।

मेरा 7 इंच लम्बा मोटा ताजा काला लण्ड उसकी मुँह में आधा जा चुका था, मैने कमर आगे बढ़ायी और एक धक्का लगाकर पूरा लण्ड उसके मुँह में उतार दिया। वह पीछे हट गयी जिसकी वजह से लण्ड बाहर आ गया। मैं फिर आगे बढ़ने वाला ही था कि उसने कहा, इतनी जल्दी भी क्या है राजा। घर में कोई नहीं है आराम से चोदो। यह सुनकर मुझे समझ आया कि उसने चुदने के लिए ही मुझे अंदर बुलाया था। फिर मैने अपनी पैंट शर्ट के साथ सारे कपड़े  उतारे औऱ लण्ड सहलाने लगा। अब वो मेरे पास आया और मेरे सामने घुटने के बल बैठकर आराम से धीरे धीरे लण्ड सहलाते हुए चूसने लगी। मुझे बड़ा मजा आ रहा था, पर मुझे डर भी लग रहा था कि कहीं मैं झड़ न जाऊ। उसने जीभ घुमा घुमाकर ऐसा लौड़ा चूसाना शुरू किया मानो लग रहा था कि उसने लण्ड चूसने में पीएचडी कर रखी हो।

word image 5679 2

अब, उसने पास पड़े एक बैग से कुछ सामान निकाला, मैने ध्यान से देखा तो एक इंजेक्शन था जिसमें वो कोई दवाई भर रही थी। उसने दवाई भर के मुझसे पूछे बिना ही लण्ड के अगले हिस्से में मेरे एक इंजेक्शन लगा दिया। मुझे बहुत दर्द हुआ। पर 2 मिनट बाद ही सब सही हो गया और मेरा लण्ड बिल्कुल आइफिल टावर की तरह सीधा खड़ा था। अब उसने एक अपने मुँह में रखी और मुझे किस करने लगी। होठ से होठ ऐसे मिल रहे थे जैसे सूखा पड़ने के बाद बारिश हो रही हो। उसकी दवाई का असर मेरे उपर भी आ रहा था। कुछ देर किस करने के बाद मेरे अंदर दवाईयों का जोश भरा।

मैंने उसको घुमाया और उसकी कैल्विनकेन की बनियान फाड़ डाली और चूचे जोर जोर से दबाने लगा। उसके चूचों का साइज लगभग 34 रहा होगा और एक चूचीं एक हाथ में नही आ रही थी। मैने दोनों हाथो से एक एक कर चूचीयों को ऐसे मसलना शुरू किया कि उसकी आह निकलनी लगी। फिर एक हाथ चूत पर ले जाकर रगड़ा, चूत काफी बड़ी और फटी हुई लग रही थी। अभी मैने चूत देखी नहीं थी मैं होश में नही था। मेरे अंदर कुछ कर जाने का जोश इतना था, कि मैं उस वक्त पहाड़ भी तोड़ देता। मुझे लग रहा था जैसा मैं हवा में उड़ रहा हूँ। फिर मैनें उसकी छोटी चड़्डी भी फाड़ दी औऱ चूत चाटने लगा। उसकी चूत वाकई में फटी थी और एक अजीब सी मादक खुश्बू छोड़ रही थी। मुझे समझ नहीं आ रहा था और मैं अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर बाहर करने लगा था। मैने ऊपर देखा तो वह आखें बंद किया होठ चबा रही थी।

https://nightqueenstories.com/

कुछ देर में उसने अपना हाथ मेरे लण्ड की ओर बढ़ाया और इसका टोपा खोलते हुए चूत के अंदर करने लगी। मैने उसका साथ दिया और पूरा लण्ड एक ही बार में चूत में उतार दिया। हम खड़े हुए थे जिसकी वजह से मुझे लग रहा था कि लण्ड थोडा बाहर ही रह जा रहा था। मैने उसको बटरफ्लाई वाली मशीन पर झुकाया और कुतिया स्टाइल में पीछे से उसकी चूत पर हमला बोला। मेरा अंदाजा सही थी, अब लण्ड चपक के अंदर जा रहा था। पेलमपाल अंदर बाहर आइफिल टावर जा रहा था। उसकी आँखे और चेहरा देखकर लग रहा था कि इसे बहुत मजा आ रहा है। 4 – 5 मिनट तक डागी स्टाइल में चोदने के बाद उसकी चूत ने थोड़ा पानी छोड़ दिया था, अब उसे तो मजा आ रहा था पर मुझे ऐसा लग रहा था जैसे लण्ड चूत में नही है बल्कि बाहर हो।

जोरदार पिलाई के बीच एक जब मैने लण्ड बाहर किया तो जानबूझकर उसकी गाँड में घुसेड़ दिया, वो उचक गयी। उसने झिटकने की कोशिश की पर मैने कमर से कस कर उसको पकड़ा था और लण्ड को बाहर नहीं आने दिया। मैं गाँड के मजे लेना चाहता था, उसकी गाँड काफी टाइट थी और असली मजा दे रही थी। गाँड मारने के दौरान वह आवाजे निकाल रही थी और गालियाँ बक रही थी। ‘मादरचोद गाँडू है क्या’ इस तरह की बात सुनकर मेरा जोश बढ़ रहा था और मैं धक्कों की स्पीड बढ़ाता जा रहा था। 15 मिनट हो चुके थे, दवाई का असर था कि मेरा माल निकल ही नही रहा था। मैने उसकी एक टाँग उठायी और उपर की ओर फैला दी, अब वह एक टाँग से जमीन में खड़ी थी और एक टांग मैने हाथों से ऊपर हवा में लटका दी थी। गाँड का भर्ता बन चुका था, क्योंकि सफेद सफेद गंदा पानी पूरा चूत से लेकर गांड तक फैला हुआ था और मेरे पूरे लण्ड में लगा था। मैं उसको चोदे चला जा रहा था, वह थक चुकी थी और लेटना चाहती थी। परंतु मैं उसको उतरने ही नही दे रहा था। फिर उसने एक जोर का धक्का दिया और जमीन पर लेट गयी। मेरे बाथरूम लग आयी थी, परंतु मैं वापस आया और उसके ऊपर फिर चढ गया, इस बार वापस चूत पर धावा बोला।

https://nightqueenstories.com/

अब मेरे मूत इतने जोर से लगा था कि मैने चोदते चोदते ही चूत के अंदर मूत दिया था। शायद उस इंजेक्शन का नशा था कि मेरा जोश कम नही हो रहा था और न मेरा लण्ड झुक रहा था। तबाड़तो़ड़ चुदाई का आलम यह था कि पूरे 45 मिनट बाद मैने उसको छोड़ा था। अब, जब मेरा माल निकला था मुझे इतना दर्द हुआ कि जैसे मेरे प्राण निकल जायेगें। इतनी भयंकर चुदाई के बाद एक घंटा तो हम दोनो से उठा ही नही गया। फिर वह लंगड़ाते हुए उठी और मेरे लिए खाना लेकर आयी। बहुत तेज भूख भी लगी थी, चिकेन खाने के बाद कुछ राहत मिली और जैसे तैसे मैं उस दिन लंगड़ाते हुए घर पहुचाँ और तीन दिन तक बिस्तर पर ही लेटा रहा। फिर उसके बाद से मैने नौकरी छोड़ दी थी। और मुझे लगता है पहले वाला लड़का भी इसी वजह से नौकरी छोड कर गया था। उसके बाद मेरी जिंदगी में कई और किस्से हुए जिन्हे फिर कभी सुनाउंगा।

हमे उम्मीद है कि आपको हमारी कहानियाँ पसंद आयी होगी और हम आपको बेहतरीन सेक्स कहानियां प्रदान करना जारी रखेंगे ।

तो दोस्तों ऐसे ही मजेदार चुदाई सेक्स कहानियों के लिए https://nightqueenstories.com के अन्य पेज पर जाएं।

हम आपको पूरा यकीन दिलाते हैं आपकी पसंद की हर कहानियां लेकर आएंगे। इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें। मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “रसीली दोस्त को घर में चोदा”

हिंदी की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे Indian Antarvasna Sexy Hindi Seductive Stories

इंग्लिश की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे  Best Real English Hot Free Sex Stories

 

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *