जिगोलो बनने का सफर

 645 

ऑफिस बॉय से जिगोलो बनने तक का सफर

हेलो दोस्तों कैसे हो आप सब उम्मीद करता हूं सभी मजे में होंगे। दोस्तों मेरा नाम रवि है और मैं नोएडा में रहता हूं। मैं अभी 24 साल का हूं, और एक प्राइवेट कंपनी में ऑफिस में काम करता हूं मुझे नॉलेज तो है और कंपनी का काम भी अच्छे से करता हूं। लेकिन प्राइवेट में बहुत शोषण है। मैं रोज ऑफिस जाता सुबह से शाम तक ऑफिस में रगड़ते रहता और जब सैलरी मिलती तो दिल बैठ जाता इतने कम सैलरी में ना मेरा सही से हो पा रहा था न ही घर में काम चल पा रहा था। मैं नोएडा में अकेले ही रहता था और मेरी फैमिली बिहार के गया में। मैं हर महीने पैसे भेजता था तब जाकर घर का खर्च चलता था।

दोस्तों ये कहानी करीब 6 महीने पहले का है, जो मेरी अपनी है और कैसे मैं एक ऑफिस बॉय से कॉल बॉय जिगोलो बन गया और अमीर घर के औरतों के प्यासी जिस्म का खिलौना बन गया।

दोस्तों मेरा सैलरी 14 हजार रुपए है जिसमे से 5 हजार रुपए मेरा रूम का किराया में चला जाता है खाना का 3 हजार और बाकी पैसे मैं घर भेज देता हूं। जिस कारण मुझे बहुत पैसों की हमेशा दिक्कत रहती है लेकिन इस महीने मेरे पिताजी की तबियत बिगड़ गई और मेरा बजट भी मैं पैसों का जुगाड करके घर भेजा और जब मुझे सैलरी मिली तो सारा पैसा जिससे लिया था उसे देना पड़ गया। और उधर पिताजी की तबियत अभी भी ठीक नहीं हुआ था इधर मेरे राशन के लिए पैसे नहीं बचे थे। मैं बहुत परेशान था। ऑफिस आता दिन भर काम करता और चूतियों की तरह मुंह लटका के शाम को घर चला जाता।

ऑफिस की मैनेजर पहले अपनी चूत मेरे लंड से चुदवाई फिर मुझे कॉल बॉय बनाई

पिछले कुछ दिनों से मैं बहुत परेशान सा था इसलिए ऑफिस में भी किसी से बात नहीं करता था अकेले रहना मुझे अच्छा लग रहा था, सभी पूछते क्या हुआ लेकिन मैं कुछ बोल नहीं पाता। उस दिन मैं ऑफिस पहुंचा तो मेरा सर टेंशन में पहले से दर्द दे रहा था फिर मैं सिस्टम पर बैठ के काम करने लगा। लेकिन 1 घंटा बाद एक चपरासी आया और बोला की मैडम आपको अपने ऑफिस में बुला रही है। मैं तो और ज्यादा परेशान हो गया। क्योंकि मैडम को बुलाने का मतलब था जी भर के डांट सुनना क्योंकि वो ऐसे किसी को नही बुलाती थी और उनके मन पसंद लायक काम नहीं हुआ तो फिर लोगों को नंगा करके छोड़ती थी।

हमारे ऑफिस की वो हेड थी उनका नाम रीना था, वो बहुत स्ट्रिक्ट मैडम थी। उनकी उम्र करीब 40 साल की थी उसके हसबैंड कहीं बाहर रहते थे लेकिन ये किसी को नही पता था वो कहां रहते हैं, हां इतना सबको पता था की वो साल 6 महीने में एक बार घर आते थे। खैर उससे हमे क्या मैं डरते हुए उनके ऑफिस में गया तो वो मुझे बैठने को बोली और पूछी कैसे हो तो मैं अनमने ढंग से बोला की ठीक हूं।

फिर उन्होंने मुझसे पूछा की रवि सब ठीक तो है, मैं कई दिनों से देख रही हूं, तुम कुछ परेशान से नजर आ रहे हो, अगर कोई प्रॉब्लम है तो तुम मुझे बता सकते हो, उन्होंने दोबारा बोला अगर कोई प्रॉब्लम है तो तुम मुझे बताओ जब तक तुम किसी से अपनी प्रॉब्लम शेयर नहीं करोगे, तो तुम्हारी समस्या कैसे खत्म होगी। फिर मैंने थोड़ी हिम्मत करके बोल दिया, कोई समस्या नहीं है, बस थोड़ा फाइनेंशियल प्रॉब्लम चल रहा है। मेरी सैलरी जितनी मिलती है, उसमें मेरा खर्चा नहीं चल पाता, जो भी मिलता है, वह सारा घर पर चला जाता है. मेरे पास कुछ नहीं बचता मैडम जी, और उधर बीच मेरे पिताजी का तबियत भी खराब चल रहा है, जिस कारण मेरी स्थिति और खराब हो गई है। मुझे यहां पर काम करते करते एक साल से ज्यादा हो गया, अभी तक मेरी सैलरी भी नहीं बढ़ी, जबकि इंटरव्यू के समय मुझसे बोला गया था कि आपकी सैलरी 3 महीने बाद बढ़ा दी जाएगी, लेकिन एक साल हो गया, अभी तक नहीं बढ़ी बस इसीलिए थोड़ा परेशान हूं कि कैसे मैं मैनेज करूं।

मैडम- देखो रवि इंटरव्यू के समय पर सब ऐसे ही बोलते हैं जबकि सच वो नही होता। और अगर सैलरी बढ़ती भी है चाहे वो 3 दिन में बढ़े या 3 साल में तो सिर्फ 10 पर्सेंट बढ़ेगा और वो भी साल में सिर्फ एक बार ये कंपनी का रूल है। ये सुन के मैं भौचका रह गया क्योंकि ये सब मुझे नही मालूम था। तो मैं परेशान होते हुए बोला मैडम ऐसे में तो मेरा बहुत बुरा हाल होगा। आप ही बताइए अब मैं क्या करूं, तो मैडम बोली, देख रवि मैं तुम्हारी सैलरी के बारे में तो कुछ नहीं कर सकती लेकिन यदि तुम पार्ट टाइम जॉब करना चाहो तो मैं तुम्हारी कुछ मदद कर सकती हूं और तुम्हारी आर्थिक स्थिति कुछ सुधार सकता है। तो मैं बोला मैडम यहां ऑफिस से घर जाने के बाद पार्ट टाइम काम करने की हिम्मत बिल्कुल भी नहीं हो पाएगी, वह तुम्हारे ऊपर है कि तुम काम कर पाते हो या नहीं कर पाते, तुम्हारी मर्जी है मैं तो तुम्हें पैसे कमाने का तरीका बता सकती हूं बस, और बाकी सब तुम्हारे ऊपर है। तो मैं बोला ठीक है मैडम लेकिन क्या मैं जान सकता हूं मुझे कहां काम करना है और किस तरीके का काम करना होगा। तो मैडम बोली मैं तुम्हें सब बता दूंगी कि वहां पर किस तरीके का काम होगा और क्या तुम्हारी प्रोफाइल होगी। जितना मेरे से हो सकेगा, मैं सिखा भी दूंगी लेकिन अभी मुझे कहीं जाना है, आज मुझे घर पहुंचने में थोड़ा समय लगेगा तो रात 8 बजे मेरे घर आ जाना मैं तुम्हें आराम से वहां सब समझा दूंगी, तो मैं बोला ठीक है मैडम। और मैं धन्यवाद मैडम बोल के वहां से निकलने लगा तो मैडम बोली, सुनो, जहां मैं तुम्हारे काम की बात करूँगी, वहां पर मेरी नाक नहीं कटनी चाहिए। जो भी मैं तुम्हें सिखाऊंगी, तुम्हें अच्छे से सीखना होगा ताकि आगे चल के तुम्हें काम करने में आसानी हो, मैं बोला ठीक है मैडम जो आप सिखाओगी, मैं अच्छी तरह से सीखूंगा, वादा करता हूं और आपकी नाक नहीं कटने दूंगा। और फिर मैं वहां से निकल गया।

और वो मेरे फोन में अपने घर का लोकेशन भेज दी। शाम हुआ तो मैं घर आया और नहा धोकर फ्रेश हुआ और मैडम के घर के लिए निकल गया। मैं थोड़ा जल्दी पहुंच गया था उनके घर के पास ही एक जगह बैठा और ठीक 8 बजे उनके घर गया। घर के बाहर जाकर मैंने उनके डोर पर लगी घंटी बजाई, तो मैडम ने गेट खोला। दोस्तों मैडम घर के ड्रेस में कयामत लग रही थी, वह काले रंग की जालीदार एक्सपेंसिव साड़ी और स्लीव लेस ब्लाउज में थी। उसमें से उनके चूचियां साफ़ दिख रही थी और मैं पूरे यकीन के साथ कह सकता हूं वो उस समय ब्रा नही पहनी थी। उनके 34 इंच के साइज़ के चूचे उस कसी हुई ब्लाउज से बाहर आने को मचल रहे थे। कुल मिलाकर आज वह किसी स्वर्ग की अप्सरा लग रही थी। मैने इससे पहले उनको साड़ी में कभी नहीं देखा था। तो मैंने उनकी तारीफ करते हुए बोला, मैडम यू आर लुकिंग सो गॉर्जियस, तो वह थैंक यू बोली और अंदर आने को बोली। मेरे अंदर जाते ही वो गेट अंदर से लॉक कर दी। फिर मैं सोफे पर बैठ गया और मैडम मेरे सामने वाले सोफे पर बैठी, हम दोनों के बीच में एक टेबल थी। मैडम ने मुझसे पूछा रवि क्या लोगे चाय या कॉफी?

मैंने कहा- कुछ नहीं। मैं ठीक हूं और आप कृपा करके मुझे बस एक ग्लास पानी दे दीजिए, मुझे बहुत तेज प्यास लगी है। उन्होंने आंख दबाते हुए कहा- ठीक है बस पानी ही। इतना कह कर मैडम खिलखिलाकर हंसने लगीं। मैंने भी मजाक में जवाब देते हुए कहा आपकी जो इच्छा पीला दीजिए। फिर मैडम किचन में चली गईं। मुझे लगा मैडम मजाक कर रही हैं, लेकिन जब मैंने उन्हें किचन में से वापस आते हुए देखा, तो मैं एकदम से चौंक गया, मैडम के हाथ में एक स्कॉच की बोतल दो गिलास और एक पानी की बोतल थी। जो उन्होंने लाकर टेबल पर रख दी। मैंने कहा- अरे मैडम मैं मजाक में बोल रहा था। तो मैडम बोली चलो मजाक बहुत हुआ, अब बोतल आ गई है तो दो-दो पैग हो ही जाएं। फिर मैने भी सोचा जब मैडम इतनी खातिरदारी कर रही है तो क्यों न पिया जाए फिर मैडम पैग बनाई और एक ग्लास मुझे दी, मैंने नोटिस किया मैडम मेरा पैग कुछ ज्यादा ही तगड़ा बनाई थी। फिर हमने अपना अपना ग्लास उठाया और चियर्स करके गिलास होंठों से लगा लिए। मैंने एक ही झटके में फिर बॉटमअप कर के पैग अन्दर किया और गिलास खाली कर दिया। एक ही बार में पैग खाली होते देखा, तो मैडम ने बैक टू बैक दो पैग और बना दिए। वह भी पियक्कड़ थीं, सो उन्होंने भी गिलास को एक ही सांस में खींच लिया था। फिर मैडम सिगरेट मेरे तरफ बढ़ाई तो मैं एक लिया और मैडम भी एक ली और मैडम लाइटर जलाकर मेरी भी सिगरेट सुलगाई। उधर मैडम की साड़ी एकदम खुली पड़ी थी और उनके डिप कट गले वाले ब्लाउज से उनकी मदमस्त चूचियां मुझे ललचा रही थीं। फिर मैंने गिलास उठाया और होंठों से लगा कर उनकी चुचियों को निहारते हुए शराब की चुस्की लेने लगा।

अब मुझे और पीने का मन नहीं था तो मैं बोला मैडम आपने बहुत खातिरदारी मेरी की अब अब थोड़ी काम की बात कर लेते हैं, तो मैडम ने चुचियों का नुमाइस करते हुए कहा,हां क्यों नहीं तुम्हें यहां किस लिए बुलाया है, काम की बात ही तो करने के लिए बुलाया है।

रीना मैडम अपनी चूत मेरे मुंह पर ऐसे रगड़ने लगी मानो उनकी चूत में आग नही बल्कि पूरी ज्वालामुखी धधक रहा हो

फिर उन्होंने अपना फोन उठाया और कोई अपनी सहेली जिसका नाम रानी था, उससे फोन पर बात करने लगीं, और मैडम ने फोन का स्पीकर ऑन कर दिया था, जिससे मुझे दूसरी तरफ से आती हुई आवाज साफ़ सुनाई दे रही थी, फिर मैडम ने अपनी चूत पर हाथ फेरते हुए बोला- हैलो रानी, कहां है यार तू अभी तक आई क्यों नहीं।

रानी- यार रीना मैं तो तेरी ही कॉल का वेट कर रही थी तूने ही तो कहा था उस लड़के के आने के बाद तू मुझे कॉल करेगी,

मैडम- अच्छा चल कोई बात नहीं, अब तो तुझे कॉल कर दिया न, अब तू जहां भी है, जल्दी से मेरे घर आ जा, जिस लड़के रवि की मैंने तेरे से बात करी थी, उसी जॉब के लिए वह आ गया है, और मेरे पास ही है अब तू भी आ जा जल्दी से।

मैं पहले भी कॉल बॉय के बारे में सुना था और जब मैडम ने बात की तब उन्होंने अपनी चूत पर जोर से अपनी हथेली रगड़ी तो मुझे डाउट हुआ की कही ये ऐसी जॉब के लिए तो मुझे नहीं बुलाई। और फिर मैडम मेरे करीब आई और बोली मैं जो कहूंगी वो करेगा तो मैं बोला जी मैडम कहिए। तो वह अपना साड़ी नीचे से उठाई और कमर पर ले। गई मैंने देखा वो अंदर पैंटी भी नही पहनी है और उनकी चूत से पानी टपक रहा है और मैडम बोली मेरा चूत चाटो मैं भी बिना देर किए उनकी जांघो को पकड़ा और उनकी चूत चाटने लगा। उनकी चूत का रस बहुत स्वादिष्ट था। और मैडम कमर हिला हिला के अपनी चूत मेरे मुंह पर रगड़ने लगी और चूत चटवाने लगी। और कहने लगी आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससईईईईईईसससीईईईईईई….. चाटो मेरी चूत ओह बेबी ये कैसा जादू तुमने मेरे चूत में कर दिया। ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई.. आज से पहले मुझे इतना मजा कभी नही आया। चाटो जोर जोर से आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. मैं भी किसी कुत्ते को तरह जीभ निकाल के उनकी चूत चाटे जा रहा था और फिर 10 मिनट बाद वो मेरे मुंह में ही पानी छोड़ दी।

फिर थोड़ी देर बाद ही रानी का कॉल मैडम के मोबाइल पर आया शायद वो दरवाजे पर आ चुकी थी। फिर मैडम बोलीं रवि, मैं जिससे अभी बात कर रही थी, उनका नाम रानी मैडम है वह यहां पर आ रही हैं, तुम्हें जॉब के बारे में अच्छे से समझा देंगी और तुम्हारा इंटरव्यू भी यहीं पर क्लियर हो जाएगा, बस जैसा वह समझाएंगी, तुम उनसे अच्छी तरह से समझ लेना, अगर उन्हें तुम्हारा काम पसंद आया, तो तुम्हारी पार्ट टाइम जॉब कल से स्टार्ट हो जाएगी, और शायद तुम अच्छा खासा पैसा कमाने लगोगे। और हां एक बात का ख्याल रखना कि उनको ना सुनने की आदत नहीं है, इस बात का खास तौर पर ध्यान रखना कि जैसा वो बोलेंगी, वैसे तुम्हें करना ही होगा और फिर मेरी नाक का भी सवाल है, मैं तुम्हारी मजबूरी की वजह से तुम्हे जॉब दिलवा रही हूं मेरी नाक मत कटवा देना तुम। इधर शराब ने मुझपर असर करना शुरू कर दिया था, लेकिन फिर भी मैंने मैडम से मजाक में बोल दिया, नहीं मैडम आपकी नाक नहीं कटेगी, आपकी नाक की जिम्मेदारी अब से मेरी है। जिसे मैं पूरी ईमानदारी से निभाउंगा। और फिर इस बात पर हम दोनों हंसने लगे।

तभी मैडम गई और दरवाजा खोल दी। सामने एक 40 साल की लगभग हसीना खड़ी थी अंदर आई तो मुझे देखकर अपने होंठो पर जीभ फिराई और फिर मैडम उससे मेरा परिचय करवाई तो वह हाथ आगे बढ़ाई तो मैं भी उससे हाथ मिलाया तो वह बोली हैंडसम लग रहे हो। तो मैं भी बोल दिया की मैडम आप भी बहुत खूबसूरत लग रही है। और फिर शुरू हुआ असली काम। तब तक मैं समझ गया था हो न हो ये कॉल बॉय का ही काम है, और इसलिए मैं भी मन ही मन ठान लिया कि अब तो मैं ये काम करूंगा चाहे जो हो मुझे पैसे कमाने से मतलब है। और फिर वो बोली काम कर लोगे तो मैं बोला मैडम आप टास्क तो दीजिए आप पूरी तरह मेरे काम से संतुष्ट हो जाएंगी।

और फिर वो बोली मेरे पास आओ तो मैं उनके बिल्कुल करीब आ के खड़ा हो गया तो वो बोली। किस मि। और मैं किसी अज्ञाकारी पिल्ले की तरह उनके होंठो पे होठ रख दिया और ये सब कमाल उस शराब का था। लेकिन रुकिए सिर्फ उस शराब का नहीं दोस्तों मैं जानता था कि जो पहला पैग मैं पिया था उस ग्लास में एक कोई गोली थी शायद वो सेक्स पावर बढ़ाने वाली गोली थी जो पूरी तरह घुला नही था, और मैं उसे देख लिया था लेकिन मैं जानबूझकर उसपर कुछ नही बोला था और इसीलिए पहला पैग मैं पूरा एक बार में गटक गया था और गोली भी। ताकि मैडम को शक न हों की गोली मैं देख लिया हूं।

फिर हम किस करने में व्यस्त हो गए। और फिर रानी मैडम मुझे पीछे की और बोली तुम्हे तो किस भी करने नही आता। मैं सिखाती हूं तुम्हे। अपना सारा कपड़ा उतारो। पहले तो मैं सकपकाया और फिर बिना देरी के कपड़े उतार दिए। और फिर रानी मुझ पर टूट पड़ी। और फिर उसमे रीना मैडम को भी शामिल की और दोस्तों आगे जो हुआ वह बहुत विस्फोटक था। तो अगर आप आगे के बारे में जानना चाहते हैं तो मुझे ज्यादा से ज्यादा कमेंट करें तभी मैं आगे की घटना लेकर आऊंगा।

अब मुझे दीजिए इजाजत और ऐसी ही रस से भरी चूत चुदाई की अन्य कहानियो के लिए https://nightqueenstories.com के अन्य पेज पर जाएं। हम आपको पूरा यकीन दिलाते हैं आपकी पसंद की हर कहानियां लेकर आएंगे। और चुत औऱ लन्ड की गर्मी शांत करते रहेंगे।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

कमेंट और लाइक करना न भूलें।

मेरी अगली कहानी का शीर्षक है “बॉस ने खुलवाई अपनी चूत

हिंदी की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे Indian Antarvasna Sexy Hindi Seductive Stories

इंग्लिश की कहानियों के लिए यहां क्लिक करे  Best Real English Hot Free Sex Stories

धन्यवाद।

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *