पहली मुलाकात

 181 

पहली मुलाकात और चुदाई का खेल

हेलो दोस्तों! मेरा नाम रश्मी है। में आपसे मेरा एक रोमांचक किस्सा शेयर करना चाहती हूँ। ये कोई पाहाडों वाली कहानी नही है… ये वो किस्सा है जब मेरे चचरे भाई के दोस्त ने मुझे चोदा था, वो भी एक गराज में!

ये बात दो साल पहले की है। मेरी चचेरी बहन शीला की शादी के लिए में हम सब उनके घर रहने को गए थे। उसी दौरान मेरी पहचान वीरेन से हुई जो कि मेरे चचेरे भाई का अच्छा दोस्त था। कैसे वीरेन ने हमारी मुलाकात के पहले ही दिन मेरी चुदाई की…उस बारे में है ये किस्सा!

दरसल हम सब शीला दीदी के घर मे ही रहते थे। भाई के सारे दोस्त और वीरेन भी घर के छोटे मोटे कामों में हाथ बटाते थे। तो सोने के लिए भी रात को वो सब इसी घर में रहते थे। और इंतेजाम ऐसा था कि घर के सब बड़े ऊपर वाले कमरों में सोते थे। और हम सब बच्चे नीचे वाले हॉल में। तो पहली ही रात थी और मैने हॉल में एक छोटा बेड अपने लिए ले लिया। और दूसरे बेड पर वीरेन सो गया। बाकी सारे नीचे बिस्तर लगा कर सो गए।

जबसे हम मीले तबसे हमने ज्यादा बाते तो नही की थी मगर मुझे वो बहुत सेक्सी लगा था। रात को सोते वक्त हम सब अंताक्षरी खेलने एक साथ बैठ गए। वीरेन और में एक ही टीम में थे। मेने नोटिस किया था कि वो कई बार मुझे घूर रहा था। और गाने गाते वक्त भी मेरी तरफ ही देख रहा था। अंताक्षरी के बाद स्पीकर पे गाने लगाए गए और हम सब बहुत नाचे। उस वक्त वो बार बार मेरे करीब आ रहा था और मुस्का रहा था। हमने साथ मे खूब ठुमके मारे। तभी फूफाजी आये और हम सब को सोने के लिये बोला गया।

हम सब अपनी अपनी जगह सो गए। तभी मुझे एक नंबर से व्हाट्सअप पर मैसेज आया। उसमे एक फोटो थी जो मेरी ही थी और तभी खिंची गयी थी। फ़ोटो में मैं उस सोफे पे सोई हुई थी। मेने तुरंत पीछे मुड़ के देखा… तो वीरेन मेरी ही और देख के मुसकुरा रहा था। उसने फिर मैसेज भेजा ‘तुम्हारे फूफाजी ने तो हमे सोने को बोला है मगर इतनी हॉट लड़कीं सामने है तो हम सोये कैसे?”

तो मैने उसको जवाब दिया “सही है। मगर सोने के अलावा और कर भी क्या सकते है?” मेने मेसैज डालते ही अहसास हुआ कि इस सवाल का जवाब थोड़ा नॉटी आ सकता है। उसका रिप्लाई आ गया “वैसे करने को बहुत कुछ है मैडम” मेने जवाब नही दिया। उसका फिर मैसेज आया “चलो एक गेम खेलते है…”

में : “अब कोई बच्चों वाली गेम का नाम मत ले लेना प्लीज”

वीरेन : “अच्छा जी! अब तो बड़ों वाला गेम खेलेंगे पर आपसे हो पायेगा?”

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

मुझे समझ आ रहा था कि वीरेन के मन मे क्या चल रहा है। और में भी थोड़ी हॉर्नी हो गयी थी। लेकिन वीरेन थोड़ा हिचकिचा रहा था तो मैने ही शुरुआत कर दी…

मैं : “में तुम्हे हरा ही दूंगी! चाहे कोई भी गेम हो…”

वीरेन : “गेम ये है कि…सबसे पहले किसने कुल मिला कर कितने कपड़े पहने है वो एक दूसरे को बताना है। फिर एक दूसरे को कोई भी सवाल पूछने है और अगर जवाब गलत निकाला तो एक एक करके अपने कपड़े उतारने होंगे। जिसके कपड़े पहले खतम होंगे वो हार जाएगा…😉 ”

मैं : “मंजूर!”

वीरेन : “😍😍🍑🍑”

मैं : “बोलिये फिर! आपने कितने कपड़े पहने है”

वीरेन : “सॉक्स पकड़ कर 5”

मैं : “मेरे 6!”

वीरेन : “फिर तो एक कुछ तुम्हे पहले ही निकालना होगा…हिसाब बराबरी का चाहिए!”

मेने मुड़ के उसकि तरफ गुस्से से देखा और अपने सॉक्स निकाल कर उसके मुह पर फैंक दिए। वो ब्लैंकेट में मुह छुपा कर हसने लगा…

मैं : “पहला सवाल! अफ्रीका के प्रधानमंत्री कौन है?”

वीरेन : “इतना मुश्किल? फिर तो हम दोनों ही हार जाएंगे। अगला वाला थोड़ा आसान पूछना हाँ…😂”

उसने अपने सॉक्स उतार दिए।

वीरेन : “अब तुम्हारे लिये एक आसान सवाल, मेरी माँ का नाम क्या है?”

जाहिर है मुझे पता नही था। तो मेने अपना जैकेट उतार दिया। मुझे अब बाकी कपड़ों का सोचके गुदगुदी हो रही थी। बाकी सब नीचे सो रहे थे और लाइट भी डिम थी।

में : “अब मैं भी प्रेसिडेंट वगेरा नही पुचुंगी…तुम बताओ मेरी उम्र क्या होगी?”

वीरेन : “21 है! इतनी जानकारी तो है ही मुझे तुम्हारे बारे में। फस गयी तुम तो!”

वीरेन : “अब तुम मेरा पसंदीदा रंग बताओ”

में : “आजकल सब को ब्लैक ही पसंद है”

वीरेन : “तुम्हारी पैंट का रंग नीला है ना तो मुझे नीला ही पसंद है।😍”

और में फिर फस गयी! मेने ब्लैंकेट के अंदर ही अपनी नीली जीन्स उतार दी और सोफे पर रख दी। पैंट उतारने से मेरी चुत मचलने लगी थी। अब जितने के लिए हम दोनों ने ही मुश्किल सवाल पूछे…

उसने बैठ कर अपना टी शर्ट निकाला। मेने ब्लैंकेट के अंदर ही अपनी टी शर्ट निकाल दीया। सच कहूँ तो इस खेल में मजा आ रहा था। उसने अपनी जीन्स उतार दी। फिर मेरी बारी आई कुछ उतारने की, अब मेने सिर्फ ब्रा और पैंटी पहनी थी। तो मैने अपनी ब्रा निकालके, ब्लैंकेट के बाहर हाथ डालके उसे निकाली हुई ब्रा दिखा दी।

वीरेन : “ऐसे तो मजा ही नही है! ये ब्लैंकेट कहासे आया गेम में???”

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

मेने उसकी ओर देखा। वो मेरी ही तरफ देख रहा था। मेने एक झटके में अपना ब्लैंकेट ऊपर उठाया और तुरंत फिरसे नीचे कर लिया। मुझे यकीन था उसने मेरे नंगे बदन को, मेरी चुचियों को जरूर देखा। उसकी आँखे तो खुली की खुली ही रह गई…मुझे बड़ा मजा आया!

फिर उसने अपना बनियान निकाल लिया। और मैने अपनी पैंटी निकाल दी। और इसही के साथ मे गेम हार गई थी।

वीरेन : “अब हारी हो तो सजा भी मिलेगी… झेल पाओगी?”

मैं : “अब झेलनी तो पड़ेगी ही! बताइए”, में इस खेल को और आगे लेजाना चाहती थी। मेरी चुत अब प्यासी थी और में चाहती थी कि वीरेन मेरी चुत की प्यास बुझाये।

वीरेन : “मेरे हाथ तुम तक नही पोहच पाएंगे… मेरी ओर से अपनी चुचियों को सहलाओगी?”

मैं : “वो तो में पहले से कर रही हूँ… तुमने इस हालत में जो लाके रखा है मुझे!”

वीरेन : “तुम्हारी ऐसी बातों की वजह से मुझे अपना 🍌हिलाना पढ़ रहा है! उसकी भी सजा मिलेगी तुम्हे। और सजा ये है कि तुम भी अपनी चुत को सहलाओ…अभी!”

मैं : “वैसे ये तुम्हारा काम है, बेहतर होगा तुम्ही आके करो 😉”

उसका कोई जवाब नही आ रहा था। कुछ देर सोचने के बाद उसने मैसेज किया “घर के ठीक सामने गराज है, वहा चले?”

में : “किसीने देख लिया तो…?”

वीरेन : “अरे, सब सो रहे है मेरी रानी! अब चलो भी और मत तड़पाओ”

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

मुझे समझ नही आ रहा था क्या करूँ और उपर से मैने कुछ पहना भी नही था। लेकिन फिर मेने मन बना लिया। ब्रा और पैंटी पहने बिना मेने टी शर्ट और जीन्स पहन ली औऱ उसके पीछे चल दी…

वो दरवाजा खोल के अंदर गया। उधर अंधेरा था में धीरे धीरे अंदर गयी तो कुछ भी दिखाई नही दे रहा था। औऱ अचानक दरवाजा बंद हो गया। उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया और मेरी गर्दन पर किस करने लगा। में पलट गई और फिर हम मुह पर किस करने लगे और मीठी जीभ भी चाटने लगा। उसके हाथ मेरे टी शर्ट के अंदर थे…उसके छूने से मेरी चुत गीली होने लगी थी।

पर इतना अंधेरा था कि मुझे डर लग रहा था। तो मैने उसे टॉर्च लगाने को बोला। वो मेरा हाथ पकड़ कर और अंदर लेके गया। उधर एक टेबल पर में बैठ गयी और उसने टोर्च लगा दिया। मेने उसकी टी शर्ट निकाल दी। फिर वो मेरी टी शर्ट निकालने लगा तो मैने रोक लिया…

उसने कहा “अंदर बडा छेड रही थी मुझे, अब शर्मा रही हो?”

मेने कहा “इस बार कपड़े तो पहले तुम्हारे उतरेंगे”

उसने अपनी जीन्स उतार दी और मेरे हाथ लेकर उसके अंडरपैंट पर रख दिये। मुझे उसका खड़ा लन्ड महसूस हो रहा था। मेने उसकी अंडरपैंट उतार दी और उसका लंड हाथ मे लेकर सहलाने लगी। और फिर मुह में ले लिया।

उलके मजा आ रहा था औऱ वो आहे भी भर रहा था…

“आहहहहहहहहहहहहहहहहह….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….”

जब में झुकर उसके लन्ड को चूस रही थी तब उसने ऊपर से हाथ डालकर मेरा टी शर्ट निकाल दिया। में उठी तो उसने मेरी चुचियों को दबोच लिया औऱ चूमने लगा। मेरी बैचैनी बढ़ रही थी।

फिर उसने मुझे घुमाया औऱ मेरे बाल हटाकर मेरी पीठ को चूमने लगा। ऊपर से नीचे चुम रहा था। और में अपनी चुचियाँ हाथ से दबा रही थी। वो चूमते चूमते नीचे कमर तक पहुचा। मेने कमर हिला कर अपनी गांड आगे कर दी…तो उसने जीन्स नीचे दी और मेरी गांड चाटने लगा। किसीने पहली बार मीठी गांड चाटी थी और मुझे पसंद भी आ रहा था।

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

फिर उसने पूरी जीन्स उतार दी और मुझे उठा कर टेबल पर लेटा दिया। मेने भी अपनी टांगे फैला दी। उसने अपनी एक उंगली मेरी पूरी चुत पर घुमाई। फिर दो उँगलियाँ घुमाई। में बस अपने ओठ चबाने लगी। मेंरी चुत अब पानी पानी हो रही थी।

उसने फिर अपना लन्ड मेरी चुत पर घुमाना शुरू किया। और एक ही शॉट में पूरा लन्ड अंदर डाल दिया और मेरी जोर की चींख निकली…

ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह……

विरूउउउउ…उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…. उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह… आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह….. वीरू चोदो मेरी चुत।… आआआहहहहहहह और जोर से..जोर से ओह मेरे हीरो आआआहहहहहहह

आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह…..

चोदो मेरी चुत।…तबाही मचा दो मेरी चुत में…

आआआहहहहहहह जोर से..। आहहहहहहहहहहहहहहहहह…ओहहहहहहह हहहहहहह…… आह हहहहहहहहहहहहह…..

इस तरह की और कहानियाँ पाने के लिए nightqueenstories.com पर जाएं।

उसने मेरी टांगे हाथ मे लेली और मुझे चोदता रहा। में खुशी से पागल हो रही थी। इतना आनंद मुझे पहले कभी नही आया था। वीरेन के लन्ड की ताकत मेरी चुत को संतुष्ट कर रही थी। उसके चोदने से मेरी चिचियाँ भी झटके खा रही थी।

हम जिस टेबल पर थे वो टेबल हिल रहा था। हम दोनों ही होश में नही थी अगर कोई इस वक्त आ जाता तो हमे पता भी नही चलता। कुछ देर बाद वो झड़ गया और मेरे उपर लेट गया। थोड़ी देर हम वैसे ही पड़े रहे। बाकी सब सो रहे थे इस लिए हमे कोई जल्दी भी नही थी।

अचानक दरवाजे के बाहर से कुछ आवाज आई। हम दोनों चौंक के उठ गए और बिना आवाज किये बैठे रहे। फिर 2 मिनट बाद वीरेन उठ कर गया औऱ चुपसे से देखने लगा कोन है…कुत्ता! बस एक कुत्ता था। मेरी जान में जान आयी।

मेने जल्दी से अपनी टी शर्ट पहन ली और जीन्स उठाने के लिए नीचे झुकी। तभी पीछे से वीरेन आया और मेरी चुत में हाथ डालके सहलाने लगा। में वैसी ही झुकी रही। उसने फिर से अपना खड़ा लन्ड मेरी चुत में डाला और जम कर चुदाई की। मेरी सिसकियाँ दबाने के लिए उसने अपना एक हाथ मेरे मुह पर रख दिया मगर मेरी आवाज निकलती रही…

ओहहहहहहहहहहहहहहहहह…

सससीईईईईईईसससीईईईईईई….. आहहहहहहहहहहहहहहहहह……

विरूउउउउ…उममहःहहहहहहहहहहहहहहहह….सससीईईईईईईसससीईईईईईई…..

थोड़ी देर बाद हम रुके। हमने कपड़े पहन लिए और एक एक कर के हॉल में चले गए। अपने सोफे पर सोने के बाद मुझे फिर अपनी टी शर्ट और जीन्स उतारीनी पड़ी। ब्रा और पैंटी पहने के लिए। और मेरी सारी हलचल वो अपने सोफे से देखता रहा। और फिर हम सो गए…

आगे जब तक हम उस घर मे थे हम बार बार मौका ढूंढ कर मिलते और वो मेरी अलग अलग स्टाइल में चुदाई करता। तो ये थी दोस्तो मेरी वो कहानी जिनमे इस लड़के ने पहली ही मुलाक़ात में मेरी चुदाई कर ली। अगर ये कहानी पढ़ कर आपको मजा आया तो लाइक और कमेंट जरूर करे।

ऐसी कयामत भरी चुदास कहानी पढ़ने के लिए https://nightqueenstories.com पर बने रहना। हम आपको पूरा यकीन दिलाते हैं आपकी पसंद की हर कहानियां लेकर आएंगे। और चुत औऱ लन्ड की गर्मी शांत करते रहेंगे। धन्यवाद।

 

100% LikesVS
0% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *